ALL ख़ास ख़बर जरा हटके ब्रेकिंग न्यूज़
आर्थिक व्यवस्था की कड़ियों को मजबूत संबल मिलेगा - केशव प्रसाद मौर्य
May 13, 2020 • Arun Awasthi • ख़ास ख़बर

- उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने उत्तर प्रदेश की 23 करोड़ जनता की ओर से मा० प्रधानमंत्री  व केंद्रीय वित्त मंत्री के  प्रति  प्रकट किया  आभार।

- 20 लाख  करोड़ के आर्थिक पैकेज से   देश की जनता का आत्मविश्वास  बढ़ा।

-समाज के सभी वर्गों के लोगों को मिलेगा इससे लाभ।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि 130 करोड़ देशवासियों के ह्रदय सम्राट, विश्व के सबसे लोकप्रिय सफल नेता भारत के प्रधानमंत्री मा० नरेन्द्र मोदी जी ने  देश वासियों का दिल जीता है 

कहा कि लाँकडाउन 4 से पहले 20 लाख करोड़ के पैकेज की घोषणा 21 वीं सदी भारत की सदी होने का ऐलान है । श्री मौर्य ने कहा कि इस पैकेज से देशवासियों का आत्मविश्वास बढ़ेगा और ग़रीब, मज़दूर, किसान  के साथ मध्यम वर्ग के लिए भी पैकेज में की गयी व्यवस्था  से 'आत्मनिर्भर भारत अभियान' सफल होगा। उन्होने कहा कि  आर्थिक पैकेज के जरिये मा० वित्तमंत्री  निर्मला सीतारमण द्वारा  जो  विभिन्न क्षेत्रो/सेक्टरो मे राहत देने का  उल्लेख किया गया है,  उससे विशेष तौर से हमारे मज़दूर भाई - बहनों को रोज़गार के अधिक से अधिक अवसर मिलेगे और वह आत्मनिर्भर  भी हो सकेगे। बहुमुखी, चहुंमुखी व सर्वांगीण विकास होगा। 
 श्री मौर्य ने कहा इस पैकेज से आर्थिक व्यवस्था की कड़ियां को मजबूत संबल मिलेगा। कुटीर, लघु, मध्यम,  सूक्ष्म और मझोले उद्योगों, (एम एस एम ई ) के लिए जो बजट में प्राविधान किया गया है, इससे न केवल मध्यम वर्ग के लोगों को लाभ मिलेगा बल्कि बड़ी संख्या में रोजगार भी सृजित होंगे और करोड़ों लोगों को आजीविका का साधन मिलेगा। उन्होंने कहा कि आर्थिक सुधारों के जरिए भारत का निर्माण होगा और अर्थव्यवस्था पटरी पर आएगी। श्री मौर्य ने कहा कि इस पैकेज से लोकल ब्रांड को ग्लोबल ब्रांड बनाने का लक्ष्य पूरा होगा। हर परिवार लाभान्वित होगा। व्यापारियों और छोटे कारोबारियों को विशेष तौर से लाभ होगा और छोटे उद्योगों को आकार और क्षमता में वृद्धि करने का अवसर मिलेगा ।मैन्युफैक्चरिंग और सर्विस सेक्टर में फर्क नहीं होगा। लोकल से ग्लोबल तक जाने की दिशा में यह एक कदम है। एमएसएमई को ई - मार्केट से जोड़ा जाएगा। कर्मचारियों और  कंपनियों को भी लाभ होगा। बिजली वितरण कंपनियों को मदद मिलेगी। नौकरी पेशा लोगों को भी लाभ मिलेगा।