ALL ख़ास ख़बर जरा हटके ब्रेकिंग न्यूज़
संभावितों के इलाज की तैयारियों से अंसतुष्ट दिखे डीएम, सीएमओ को व्य्वस्थां सुधारने के दिए निद्रेश
April 4, 2020 • Arun Awasthi

बिछिया सीएचसी, सरस्वती मेडिकल कॉलेज एवं जिला जेल का किया निरीक्षण

उन्नाव। जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार ने अपने स्थलीय भ्रमण कार्यक्रम के तहत नोवेल कोरोना वायरस के सम्भावित एवं संक्रमित व्यक्तियों का प्रभावी इलाज एवं देखभाल से सम्बन्धित चिकित्सीय व्यवस्थाओं की तैयारियों का जायजा लेने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बिछिया, सरस्वती मेडिकल कॉलेज नवाबगंज एवं जिला जेल का निरीक्षण किया।
जिलाधिकारी ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बिछिया के प्रभारी चिकित्साधिकारी डा0 रवि प्रकाश सचान, टीम लीडर इकाई प्रभारी कोविड-19 डा0 पंकज कुमार से संक्रमित व्यक्तियों का प्रभावी इलाज की तैयारियों के बारे में जानकारी प्राप्त की तथा पूरे स्वास्थ्य केन्द्र के वार्डों को देखा। बताया गया कि 04 वार्डों को आइसोलेशन किया गया है। विभाग द्वारा की गयी तैयारियों से असंतुष्ट होते हुये जिलाधिकारी ने कहा कि एल-1 की स्थिति गाइडलाइन के अनुसार व्यवस्था की जाये। अस्पताल में बने शौचालयों की स्थिति ठीक न होने पर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि पी0पी0, मास्क, सेनिटाइजर आदि की व्यवस्था पर्याप्त मात्रा में रखी जायें। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में डॉक्टरों एवं स्वास्थ्य कर्मियों हेतु बनाये गये आवासों को देखा, जिसपर जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये कि स्वास्थ्य कर्मियों के ठहरने एवं खाने-पीने की व्यवस्था अच्छी होनी चाहिये। इस दौरान उपस्थित डॉक्टरों को होने वाली कठिनाइयों को दूर करने के निर्देश दिये। इसके उपरान्त जिलाधिकारी ने जनपद के सरस्वती मेडिकल कॉलेज जाकर आइसोलेशन वार्ड, मास्क आदि के बारे में विस्तार से प्रभारी/निदेशक, सरस्वती मेडिकल कॉलेज, डा0 के0के0 राय से जानकारी ली। बताया गया कि अस्पताल में 20 बेड आइसोलेशन के लिये, 15 क्वारेन्टाइन के लिये, 50 स्‍टॉफ के लिये तथा एम ब्लॉक में एक्टिव, पी ब्लॉक में पैशिव टीम के रहने की व्यवस्था बनायी गयी है। सरस्वती मेडिकल कॉलेज में कोरोना वायरस से निपटने की अब तक की गयी तैयारियों की अद्यतन रिपोर्ट डा0 विवेक गुप्ता शाम तक जिलाधिकारी को उपलब्ध करायेंगे।

जिलाधिकारी ने नोवेल कोरोना वायरस के सम्भावित एवं संक्रमित व्यक्तियों का प्रभावी इलाज एवं देखभाल से सम्बन्धित चिकित्सीय व्यवस्थाओं की तैयारियों को गम्भीरता से लेते हुये मुख्य चिकित्साधिकारी को स्पष्ट निद्रेश देते हुये कहा कि यदि किसी प्रकार की तैयारियों में त्रृटि पायी जायेगी तो सम्बन्धित के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। इसके उपरान्त जिलाधिकारी ने जिला जेल में नोवेल कोरोना वायरस के बचाव एवं कैदियों द्वारा बनाये जा रहे मास्क के बारे में जानकारी ली। जेल अधीक्षक ए0के0 सिंह को कैदियों को समय-समय पर साबुन से हाथ धाने, सेनिटाइजर, मास्क उपलब्ध कराये जाने, आदि का विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिये। उन्होंने अब तक जमानत पर छूटे कैदियों की संख्या, और जेल की सुरक्षा व्यवस्था आदि पर चर्चा की।
भ्रमण के दौरान पुलिस अधीक्षक विक्रान्त वीर, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 आशुतोष कुमार, अपर मुख्य चिकित्साधिकरी डा0 ए0के0 रावत, डा0 तनमय कक्कड़, उप निदेशक सूचना डा0 मधु ताम्बे सहित अन्य विभागों के अधिकारी/कर्मचारी आदि उपस्थित रहे।