ALL ख़ास ख़बर जरा हटके ब्रेकिंग न्यूज़
उत्तर प्रदेश में सड़कों के निर्माण में नवीन तकनीक का किया जा रहा है उपयोग ● हर्बल व सिंगल यूज वेस्ट प्लास्टिक रोडों के निर्माण पर भी दिया जा रहा है जोर
January 15, 2020 • Arun Awasthi • जरा हटके

लखनऊ। उ0प्र0 के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के कुशल मार्गदर्शन में लोक निर्माण विभाग द्वारा जहाॅ एक ओर सड़कों का पूरे प्रदेश में समग्र रूप से जाल बिछाया जा रहा है, वहीं सड़कों के गड्ढ़ामुक्ति के कार्य में भी उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल की गयी हैं। नयी तकनीक का इस्तेमाल करके धन की बचत भी की गयी है। प्रदेश सरकार के गठन के उपरान्त ही सड़कों को गड्ढ़ामुक्त करने का निर्णय लिया गया, जिसके तहत 2017-18 एवं 2018-19 में लगभग 129514 किमी0 लम्बाई के मार्गों को गड्ढ़ामुक्त एवं लगभग 57100 किमी0 लम्बाई को नवीनीकृत किया गया है। वर्ष 2019-20 में लगभग 22100 किमी0 से अधिक लम्बाई में रू0 2787 करोड़ की लागत से मार्गों पर विशेष मरम्मत एवं नवीनीकरण के मार्गों की स्वीकृतियां निर्गत की गयीं और अब तक लगभग 18000 किमी0 लम्बाई में कार्य पूर्ण किया जा चुका है।
उपमुख्यमंत्री ने निर्देश दिये हैं कि सड़कों के किनारे पड़ने वाली महत्वपूर्ण स्थलों/धार्मिक स्थलों के पास लोगों के बैठने की व्यवस्था, छाया व पानी आदि के इंतजाम किये जांय। उन्होने रेन वाॅटर हार्वेस्टिंग की भी व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं। उपमुख्यमंत्री ने स्पष्ट निर्देश दिये हैं कि सड़कों के निर्माण व मरम्मत कार्यों के समय पर्यावरण संरक्षण व संवर्धन को अनिवार्य रूप से ध्यान में रखा जाय। इसीलिये उन्होने यह भी निर्देश दिये हैं कि जहाॅ पर पेड़ काटने की जरूरत पड़ती है तो दूसरे स्थान पर पेड़ों को विस्थापित करने/लगाने की भी व्यवस्था सुनिश्चित की जाय। श्री मौर्य ने यह भी निर्देश दिये हैं कि बड़े मार्गों के निकट पड़ने वाले निरीक्षण भवनों का सुदृढ़ीकरण व सौंदर्यीकरण कराया जाय तथा आवश्यकताओं को देखते हुये नये निरीक्षण भवनों का निर्माण भी किया जाय। उन्होने स्पष्ट निर्देश दिये हैं कि जहाॅ पर निरीक्षण भवन पड़ते हैं उनके पास बड़े साईनबोर्ड लगाये जांय तथा रोड सेफ्टी व मार्ग दुर्घटनाओं को रोकने हेतु नियमानुसार मानक के अनुरूप स्पीड ब्रेकर व रम्बल स्ट्रीप बनायें जाये।

उपमुख्यमंत्री के निर्देशों के क्रम में लोक निर्माण विभाग द्वारा प्रदेश के सभी जनपदों में एक-एक हर्बल मार्ग का चयन किया गया है जिसको हर्बल मार्ग के रूप में विकसित किया जायेगा। कई मार्गों पर हर्बल पौधे रोपित भी किये गये हैं, पिछले वित्तीय वर्ष में सभी मण्डलों में एक-एक हर्बल मार्ग को विकसित किया गया है।
राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयन्ती के अवसर पर सिंगल यूज वेस्ट प्लास्टिक का उपयोग कर लोक निर्माण विभाग द्वारा प्रदेश के 9 जनपदों- आगरा, बरेली, झांसी, कानपुर, मेरठ, गोरखपुर, प्रयागराज एवं वाराणसी में नवीनीकरण का कार्य कराया गया है, अब प्रत्येक जनपद में कार्य कराया जाना प्रस्तावित है। विभाग में कराये जा रहे कार्यों की पार्दर्शिता बढ़ाये जाने के उद््देश्य से आॅनलाईन पोर्टल विकसित किये गये हैं, जिनका लिंक लोक निर्माण विभाग की वेबसाइट पर उपलब्ध है। सड़कों की गुणवत्ता व अन्य कार्यों के सम्बन्ध में शिकायतों व सुझावों हेतु टोल फ्री नम्बर भी 1800 121 5707 की भी सुविधा आम जनमानस हेतु उपलब्ध करायी गयी है।